बीकानेर रेल मंडल की आय में निरंतर वृद्धि, आय का मुख्य स्रोत आरक्षित तथा अनारक्षित टिकटों की बिक्री तथा माल लदान

बीकानेर, 10 जुलाई (हि.स.)। उत्तर पश्चिम रेलवे बीकानेर मंडल की आय में निरंतर वृद्धि हो रही है। इस वित्तीय वर्ष 2024-25 की पहली तिमाही अप्रैल 2024 से जून 2024 तक मंडल की कुल आय लगभग 364.09 करोड़ रुपए हुई जो गत वर्ष 2023-24 के दौरान पहली तिमाही अर्थात अप्रैल 2023 से जून 2023 तक हुई आय लगभग 345.55 करोड़ रुपए से 05.37 प्रतिशत अधिक है।

इस आय में यात्री आय, माल लदान, टिकट चेकिंग, एसएलआर लीज़िंग, खानपान/वेंडिंग, वाणिज्यिक प्रचार इत्यादि से हुई आय सम्मिलित है। मंडल की आय का मुख्य स्रोत आरक्षित तथा अनारक्षित टिकटों की बिक्री तथा माल लदान से हुई आय रहा।

रेलवे के सीनियर डीसीएम महेशा कुमार जेवलिया के अनुसार मंडल को इस तिमाही में आरक्षित तथा अनारक्षित टिकटों की बिक्री से 147.78 करोड़ रुपए की आय हुई । इस दौरान यात्रियों की संख्या में भी पिछले वर्ष की तिमाही से 7.70 प्रतिशत की वृद्धि हुई है। जहां वर्ष 2023 की पहली तिमाही में यात्रीभार 116.45 लाख था वही इस वर्ष इस अवधि के दौरान यात्रीभर 125.42 लाख रहा। माल लदान से इस अवधि में 120.35 करोड़ रुपयों की आय हुई है।

इसके अतरिक्त इस तिमाही में टिकट चेकिंग से भी 321.78 लाख रुपए की आय हुई जो गत वर्ष अप्रैल 2023 से जून 2023 तक में प्राप्त आय 277.59 लाख रुपए से 15.92 प्रतिशत अधिक है।

माह जून 2024 को हुई आय के अन्य उल्लेखनीय स्रोतों में एसएलआर लीजिंग से 118.52 लाख रूपए का राजस्व प्राप्त हुआ जो गत वर्ष जून 2023 को प्राप्त राजस्व 86.58 लाख रुपए से 36.89 प्रतिशत अधिक है। खानपान/ वेंडिंग से जून 2024 में 46.99 लाख रुपए की आय प्राप्त हुई गत वर्ष जो जून 2023 को हुई आय 44.07 लाख रुपए से 6.63 प्रतिशत अधिक है। वाणिज्यिक प्रचार से 6.34 लाख रूपये का राजस्व प्राप्त हुआ जो गत वर्ष जून 2023 को प्राप्त राजस्व 00.31 लाख रुपए से 1945.16 प्रतिशत अधिक है।साइकिल/स्कूटर स्टैंड ठेके से 6.76 लाख रुपए का राजस्व प्राप्त हुआ जो इस मद में गत वर्ष जून 2023 को प्राप्त आय 4.17 लाख रुपए से 62.11 प्रतिशत अधिक है।

समाप्त

हिन्दुस्थान समाचार / डॉ राजीव जोशी / डॉ.ईश्वर बैरागी

   

सम्बंधित खबर