सुचारू स्वच्छ पेयजल आपूर्ति के लिए विभाग ने कसी कमर

जींद, 10 जुलाई (हि.स.)। जल जीवन मिशन के तहत गांव में हर धर तक साफ स्वच्छ व पर्याप्त मात्रा में पेयजल पहुंचाने के लिए जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी विभाग ने कमर कस ली है। जिसके तहत जिले के सभी उपमंडल अभियंताओं द्वारा प्रतिदिन 10-10 गांव के सरपंचों के साथ बैठक करके स्वच्छ पेयजल आपूर्ति में आ रही समस्याओं का समाधन कर रहे हैं। जींद में उपमंडल अभियंता रणवीर सिंह , उचाना उपमंडल अभियंता सुनीता व कनिष्ठ अभियंता नरेश जागलान खंड समन्वयक कुशल शर्मा सहित कई गांव के सरपंचों ने भाग लिया।

बुधवार को जानकारी देते हुए जनस्वास्थ्य अभियांत्रिकी विभाग के जिला सलाहकार रणधीर मताना ने बताया कि विभग द्वारा प्रत्येक घर में स्वच्छ पेयजल पहुंचाने का प्रयास किया जा रहा है लेकिन कई बार पाइपलाइन लिकेज अस्वच्छ कनैक्शन व खुले चल रहे नलों के कारण कुछ जगह पर ग्रामीणों को स्वच्छ व प्रयाप्त मात्रा में पेयजल उपलब्ध नही हो पाता है। इसको लेकर ग्रामीणों व कुछ सरपंचों द्वारा विभाग को शिकायत की जाती रही है।

अब विभाग ने उपमंडल अनुसार प्रतिदिन 10-10 गांव के सरपंचों को बुला कर उनकी समस्याएं सुन कर उनका समाधान करने का कार्य शुरू किया है। अधिकतर सरपंचों द्वारा गांव में खुले चल रहे नलों के बारे में शिकायत की गई है। जिससे बहुत ज्यादा पेयजल की बर्बादी हो रही हैैै। सरपंचों का कहना है कि विभाग इस मामले में सख्त कार्यवाई करेें। उपमंडल अभियंताओं द्वारा सरपंचों को आश्वासन दिया गया है कि विभाग ग्राम पंचायत के साथ मिलकर प्रत्येक गांव में अभियान चलाएगा व खुले चल रहे नल वाले उपभेाक्ताओं को नोटिस जारी करेगा। यदि फिर भी उन्होने अपने नलों पर टेप नही लगाया तो ऐसे कनैक्शनों को विभाग द्वारा काट दिया जाएगा लेकिन इसके लिए ग्राम पंचायत को विभाग का सहयोग करना होगा। ऐसे उपभोक्ताओं पर जुर्माना लगाने के साथ-साथ अन्य विभागीय कानूनी कार्यवाही भी की जाएगी। उन्होंने सरपंचों से आग्रह किया की कहीं पर पाइप लाइन लीकेज होने पर विभाग को सूचित करे ताकि उसे ठीक करवाया जा सके। इसके अतिरिक्त यदि ग्राम पंचायत को पेयजल के लिए कोई अन्य जरूरी प्रोजक्ट चाहिए तो उसके लिए प्रस्ताव व जगह उपलब्ध करवाएं।

हर गांव में होगा जल चौपाल का आयोजन

जिले की सभी 300 ग्राम पंचायतों में जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी विभाग व जल एवं स्वच्छता सहायक संगठन विभाग द्वारा सयुंक्त रूप से जल चौपालों का आयोजन उपमंडल अभियंता, कनिष्ठ अभियंता व खंड समन्वयक द्वारा करवाया जाएगा। जींद ब्लाक में खंड समन्वयक दिनेश मलिक, अलेवा में ईश्वर सिंह, उचाना में कुशल शर्मा, जुलाना में सोमलता सैनी, पिल्लूखेड़ा में सुरेंद्र दुग्गल, सफीदों में बलवान सिंह व नरवाना तथा उझाना में सुरेन्द्र कुमार के द्वारा जल चौपाल के लिए तैयारियां शुरू कर दी हैं।

समरससमरससमरस

हिन्दुस्थान समाचार / विजेंद्र मराठा / संजीव शर्मा

   

सम्बंधित खबर