दहेज हत्या मामले में पिता-पुत्र नामजद

हमीरपुर, 13 जून (हि.स.)। विवाह के बाद दहेज में फोर व्हीलर गाड़ी, सोने की जंजीर और पांच लाख रुपए की मांग को लेकर विवाहिता का उत्पीड़न और उसके बाद विवाहिता की मौत के मामले में पुलिस ने गुरुवार को न्यायालय के आदेश पर दहेज उत्पीड़न और हत्या का मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

मौदहा कोतवाली क्षेत्र के बड़ी आबादी वाले गांव गुसियारी निवासी कबीर खां पुत्र गफूर खां ने अपनी तहरीर में बताया कि उसने अपनी पुत्री महरुन निशा का विवाह दिसम्बर 22 में गांव के गुलाम हुसैन पुत्र इनमुल करीम उर्फ मुंशी के साथ मुस्लिम रीति रिवाज के साथ किया था और अपनी हैसियत के अनुसार जेवरात और दहेज दिया था। लेकिन कुछ दिनों के बाद ही उक्त गुलाम हुसैन और पिता इनमुल करीम फोर व्हीलर गाड़ी, दो तोला सोने की जंजीर और पांच लाख रुपए की मांग कर उसकी पुत्री के साथ मारपीट और उसका उत्पीड़न करने लगे साथ ही उसे हमसे बात भी नहीं करने देते थे।

पीड़ित ने बताया कि एक दिन उसकी पुत्री ने चोरी से फोन कर पिता को बताया कि मुझे लिवा जाओ नहीं तो उक्त लोग मुझे जान से मार देंगे। पीड़ित ने बताया कि इसके बाद वह कुछ लोगों के साथ बेटी की ससुराल गए लेकिन समस्या का हल नहीं हुआ। उसके कुछ समय बाद उसकी पुत्री की मौत हो गई। पीड़ित ने बताया कि उसके ससुराल वालों ने न तो उन्हें पुत्री के मौत की खबर दी और न ही उन्हें अंतिम संस्कार में शामिल होने दिया।

पीड़ित ने उक्त मामले को लेकर न्यायालय में मुकदमा दर्ज कराने की गुहार लगाई थी। जिस पर न्यायालय के आदेश पर गुरुवार को पुलिस ने दहेज उत्पीड़न और गैर इरादतन हत्या का मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

हिन्दुस्थान समाचार/पंकज//विद्याकांत

   

सम्बंधित खबर